आचार्य चाणक्य के अनमोल विचार 

chanakya_quote_In_hindi


आचार्य चाणक्य को विष्णुगुप्त और कौटिल्य के नाम से भी जाना जाता है। आचार्य चाणक्य उस समय के सबसे महान शिक्षा केंद्र तक्षशिला के गुरु थे। चाणक्य ने मौर्य वंश की स्थापना की और एक साधारण से लड़के के साहस को देखकर उसे शिक्षा दी और उसे अखंड (पुरे) भारत का एकलौता सम्राट बनाया जिसे लोग चन्द्रगुप्त मौर्य के नाम से जानते है। चन्द्रगुप्त के माता का नाम मोरा था जिसके नाम से आचार्य चाणक्य ने मौर्य वंश की स्थापना की और चन्द्रगुप्त को चन्द्रगुप्तमौर्य का नाम दिया। इस पोस्ट में आचार्य चाणक्य के कुछ विचार और चणक्य नीति का एक भाग साम, दाम, दंड, भेद... को अच्छे से समझाया गया है। 


QUOTE 1: जो लोग परमात्मा तक पहुंचना चाहते है उन्हें वाणी, मन की पवित्रता और एक दयालु ह्रदय की आवश्यकता होती है। 
(आचार्य चाणक्य)

QUOTE 2: वो जिनका ज्ञान बस किताबो तक सिमित है और जिसका धन दुसरो के कब्जे में है, वो जरुरत पड़ने पर ना अपना ज्ञान प्रयोग कर सकता है ना अपना धन। 
(आचार्य चाणक्य)

QUOTE 3: हे बुद्धिमान लोगो। अपना धन उन्ही को दो जो उसके योग्य हो और और किसी को नहीं। बादलो द्वारा लिया गया समुन्द्र का जल हमेशा मीठा होता है। 
(आचार्य चाणक्य)

QUOTE 4: यदि किसी का स्वभाव अच्छा है तो उसे किसी और गुण की क्या जरुरत है ? यदि किसी आदमी के पास महानता है तो उसे श्रृंगार की क्या आवश्यकता है। 
(आचार्य चाणक्य)

QUOTE 5: संतुलित दिमाग जैसी कोई सादगी नहीं है, संतोष जैसा कोई सुख नहीं, लोभ जैसी कोई बीमारी नहीं, और दया जैसा कोई पुण्य नहीं है। 
(आचार्य चाणक्य)

QUOTE 6: सेवक को तब परखे जब वह काम ना कर रहा हो, रिश्तेदार को किसी कठिनाई में, मित्र को संकट में, और पत्नी को घोर विप्पति में। 
(आचार्य चाणक्य)

QUOTE 7: जब आप किसी काम की शुरुआत करें तो असफलता से मत डरें और उस काम को ना छोड़े, जो लोग ईमानदारी से काम करते है वो सबसे प्रसन्न होते हैं।
(आचार्य चाणक्य)

QUOTE 8: अपमानित हो के जीने से अच्छा मरना है, मृत्यु तो बस एक क्षण का दुःख देती है, लेकिन अपमान हर दिन जीवन में दुःख लाता है।
(आचार्य चाणक्य)


QUOTE 9: कोई भी व्यक्ति अपने कार्यो से महान होता है अपने जन्म से नहीं। 
(आचार्य चाणक्य)

chanakya_quote_In_hindi


QUOTE 10: सांप के फन, मक्खी के मुख और बिच्छु के डंक में ज़हर होता है... पर दुष्ट व्यक्ति तो इससे भरा होता है। 
(आचार्य चाणक्य)


QUOTE 11: हमें भूत के बारे में पछतावा नहीं करना चाहिए, ना ही भविष्य के बारे में चिंतित होना चाहिए। विवेकवान व्यक्ति हमेशा वर्तमान में जीते हैं। 
(आचार्य चाणक्य)


QUOTE 12: फूलों की सुगंध केवल वायु की दिशा में फैलती है, लेकिन एक व्यक्ति की अच्छाई हर दिशा में फैलती है। 
(आचार्य चाणक्य)


QUOTE 13: सबसे बड़ा गुरु मन्त्र है कभी भी अपने राज़ दूसरों को मत बताएं, ये आपको बर्वाद कर देगा। 
(आचार्य चाणक्य)


QUOTE 14: जिस प्रकार एक सूखे पेड़ को अगर आग लगा दी जाये तो वह पूरा जंगल जला देता है, उसी प्रकार एक पापी पुत्र पुरे परिवार को बर्वाद कर देता है। 
(आचार्य चाणक्य)

QUOTE 15: किसी मूर्ख व्यक्ति के लिए किताबें उतनी ही उपयोगी हैं जितना कि एक अंधे व्यक्ति के लिए आईना। 
(आचार्य चाणक्य)


QUOTE 16: जैसे ही भय आपके करीब आये, उस पर आक्रमण कर के उसे नष्ट कर दीजिये। 
(आचार्य चाणक्य)


QUOTE 17: हर मित्रता के पीछे कोई ना कोई स्वार्थ होता है ऐसी कोई मित्रता नहीं जिसमे स्वार्थ ना हो, यह कड़वा सच है। 
(आचार्य चाणक्य)

chanakya_quote_In_hindi


QUOTE 18: व्यक्ति अकेले पैदा होता है और अकेले मर जाता है, और वो अपने अच्छे और बुरे कर्मों का फल खुद ही भुगतता है, और वह अकेले ही नर्क या स्वर्ग जाता है।
(आचार्य चाणक्य)


QUOTE 19: किसी मुर्ख व्यक्ति से तारीफ सुनने से बेहतर है किसी बुद्धिमान से डांट सुनना। 
(आचार्य चाणक्य)

QUOTE 20: समस्या आपको समाप्त करे इससे पहले आप समस्या को समाप्त कर दें। 
(आचार्य चाणक्य)

QUOTE 21: आपका खुश रहना ही आपके दुश्मनों के लिए सबसे बड़ी सजा हैं। 
(आचार्य चाणक्य)


QUOTE 22: अगर तुम ताकतवर हो तो दुश्मन को ऐसे दिखाओ की तुम कमजोर हो, अगर तुम कमजोर हो तो दुश्मन को ऐसे दिखाओ की तुम ताकतवर हो। 

(आचार्य चाणक्य)

QUOTE 23:  कोई भी समस्या मानवीय क्षमताओं से बड़ी नहीं है। 
(आचार्य चाणक्य)



QUOTE 24: जैसे ही भय आपके सामने आये उस पर आक्रमण कर उसे नष्ट कर दीजिए। 
(आचार्य चाणक्य)

QUOTE 25: किसी मनुष्य की वर्तमान स्तिथि को देखकर उसके भविष्य का उपहास मत उड़ाओ क्योंकि काल में इतनी शक्ति है की वो एक मामूली से कोयले के टुकड़े को हीरे में बदल सकता है। 
(आचार्य चाणक्य)



QUOTE 26: सांप, राजा, शेर, सूअर, दुसरो का कुत्ता और मुर्ख ये अगर सो रहे हो तो इन्हे मत जगायो। 
(आचार्य चाणक्य)


QUOTE 27: आलसी मनुष्य का वर्तमान और भविष्य नहीं होता है। 
(आचार्य चाणक्य)



QUOTE 28: अधिक सीधा-साधा होना भी अच्छा नहीं है जाकर देखो वन में जहां सीधे पेड़ काट दिए जाते हैं और टेढ़े खड़े रहते हैं। 
(आचार्य चाणक्य)



QUOTE 29: अगर सांप जहरीला ना भी हो तो उसे खुद को जहरीला दिखाना चाहिए। 
(आचार्य चाणक्य)

chanakya_quote_In_hindi



QUOTE 30: ईश्वर चित्र में नहीं चरित्र में बसता है। 
(आचार्य चाणक्य)



QUOTE 31: दूध में मिला जल भी दूध बन जाता है उसी तरह गुणी व्यक्ति का आश्रय पाकर गुणहीन भी गुणी बन जाता है। 
(आचार्य चाणक्य)



QUOTE 32: असंभव दिखने वाला निर्णय एक ऐसा निर्णय होता है जो लिया जा सकता है। 
(आचार्य चाणक्य)



QUOTE 33: व्यक्ति अपने गुणों से ऊपर उठता है, ऊचे स्थान पर बैठने से नहीं। 
(आचार्य चाणक्य)



QUOTE 34: इस धरती पर तीन रत्न है अन्य, जल और मीठे शब्द पर मुर्ख लोग पत्थर के टुकड़ो को ही रत्न मानते हैं। 
(आचार्य चाणक्य)



QUOTE 35: वह जो हमारे चिंतन में रहता है वह करीब है, भले ही वास्तविकता में वह बहुत दूर ही क्यों ना हो लेकिन जो हमारे ह्रदय में नहीं है वो करीब होते हुए भी बहुत दूर होता है। 
(आचार्य चाणक्य)



QUOTE 36: शिक्षा सबसे अच्छी मित्र है, एक शिक्षित व्यक्ति हर जगह सम्मान पाता है, शिक्षा सौंदर्य और यौवन को परास्त कर देती है।
(आचार्य चाणक्य)



QUOTE 37: जो इंसान शक्ति न होते हुए भी हार नहीं मानता है उसको दुनिया की कोई ताकत परास्त नहीं कर सकती है।

(आचार्य चाणक्य)

QUOTE 38: सज्जन को सम्मान देकर, लोभी को धन देकर, विद्धवान को तर्क देकर और दुष्ट को दंड देकर पक्ष में किया जा सकता है। 
(आचार्य चाणक्य)

chanakya_quote_In_hindi


QUOTE 39: दुसरो की गलतियों से सीखो अपने ही ऊपर प्रयोग करके सिखने में तुम्हारी आयु कम पड़ेगी। 
(आचार्य चाणक्य)

QUOTE 40: कामयाब होने के लिए अच्छे मित्रो की आवश्यकता होती है और ज्यादा कामयाब होने के लिए अच्छे शत्रुओ की आवश्यकता होता है। 
(आचार्य चाणक्य)

साम, दाम, दंड, भेद नीति :


इस साम, दाम, दंड, भेद नीति का उपयोग किसी भी इंसान से अपना काम कराने के लिए किया जाता है। इससे फर्क नहीं पड़ता की सामने वाला इंसान कितना शक्तिशाली है।

1. साम 

साम का अर्थ होता है सुझाव देना या विनती करना : आप कोई भी काम किसी से कराने के लिए उस व्यक्ति से विनती करिये उसे समझाइये और सलाह दीजिये ताकि वो व्यक्ति उस काम को करने के लिए राजी हो जाये उदाहरण : अगर कोई बच्चा खाना नहीं खा रहा है तो उसे प्यार से खाना खाने के लिए मनाईये। 

2. दाम 

दाम का अर्थ होता है धन या लालच देना, इनाम देना  : अगर कोई व्यक्ति बार-बार समझाने पर भी किसी काम को करने के लिए राजी नहीं होता है तो उसे धन का लालच दीजिये उदाहरण : अगर वो बच्चा समझाने पर भी नहीं मानता है तो उसे उसकी पसंदीदा चीज का लालच दीजिये।

3. दंड 

यदि कोई व्यक्ति समझाने और उस काम दाम लेने के बाद भी उस काम नहीं करता है तो उसे दंड देकर अपना काम कराईये। उदहारण : अगर वह बच्चा फिर भी नहीं मानता है तो आप उसे दंड दीजिये और उसे उसकी गलती ठीक करने के लिए कहिये। 

4. भेद 

अगर कोई व्यक्ति किसी भी हाल में उस काम को करने लिए नहीं मान रहा है तो आप उसके किसी गुप्त रहस्य का पता लगाइये और उसे उस काम को करने के लिए मजबूर कर दीजिये। 



निवेदन : इस लेख के बारे में आपके क्या विचार हमे जरूर बतायें। शेयर करें अपने दोस्तों और परिवार के साथ, आपने इस लेख पर अपना कीमती समय दिया इसके लिए आपको दिल से धन्यवाद। 
Previous Post Next Post